कॉपर में बढ़त के संकेत,जनवरी में 15.2% लाभ

05-फर-2018 (15:30)
भारतीय कॉपर में सक्रिय बढ़त दिखाई दी है. सालाना आधार पर इस वर्ष जनवरी केअंत में इसमें15.2%की बढ़त रही. जनवरी 2018 के अंत तक इसकी कीमत 448.65 रुपये प्रति किग्रा के औसत पर थी. संसद में 1 फरवरी 2018 को प्रस्तुत केंद्रीय बजट 2018-19 में सरकार ने बुनियादी ढांचे में विस्तार की मंशा दिखाई है. वर्ष 2018-19के दौरानग्रामीण क्षेत्रों में आजीविका और बुनियादी ढांचे के विस्तार का लक्ष्य रखा गया है. इस प्रोजेक्ट में सरकार 14.34 लाख करोड़ रुपये खर्च करेगी.जिसमें 11.98 लाख करोड़ रुपये के अतिरिक्त-बजटीय और गैर-बजटीय संसाधन शामिल हैं.

वर्ष 2018-19 में इन्फ्रास्ट्रक्चर पर सरकार का अनुमानित बजट और अतिरिक्त बजटीय खर्च बढ़कर 5.97 लाख करोड़ रुपये हो गया है. साल 2017-18में ये 4.94 लाख करोड़ था. 2017 के पहले दस महीनों के लिए विश्व परिशोधित तांबे केबैलेंस से तकरीबन 175000 टन घाटे के संकेत मिले हैं.

अंतर राष्ट्रीय कॉपर स्टडी ग्रुप(ICSG)के मुताबिक विश्व परिशोधित उत्पादन 2017 के पहले दस महीनों में अनिवार्य रूप से अपरिवर्तित रहा है, जिसका अनुमान है कि प्राथमिक उत्पादन (इलेक्ट्रोलिटिक और इलेक्ट्रोविनिंग) लगभग 2%गिरावट और सेकेंडरी प्रोडक्शन (स्क्रैप से) 9% वृद्थि हुई है. स्क्रैप उपलब्धता में बढ़त के कारण विश्व का सेकेंडरी रिफाइंड प्रॉडक्शन भी चाइना में बढ़ गया है. विश्व में परिष्कृत उत्पादन में ग्रोथ के मुख्य योगदानकर्ता चीन (5% की वृद्धि), भारत (7%) और कुछ ईयू कंट्रीज़ने रखरखाव को बंद करके सुधार किया है.क्षेत्रीय आधार पर रिफाइंड आउटपुट के बढ़ने का अनुमान है. एशिय़ा (3%) और यूरोप (3.5%) की बढ़त जबकि अफ्रीका में (2%), अमेरिका में (8%) औरओशिनिया में (10%)गिरावट का अनुमान है.

वर्ष 2017 के प्रथम दस माह के दौरान विश्व खनन उत्पादन में 2.6% की गिरावट बताई गई. क्षेत्रीय आधार पर अफ्रीका में खनन उत्पादन में अनुमान के तौर पर 1% की गिरावट रही. वहीं अमेरिकामें 3%, एशिया में 4% और ओसिनिया में 3% की बढ़त दिखी.

For Stock and Commodity Market Updates, Stock tips hindiCommodity tips hindi with BazaarTrading follow us on Twitter @bazaartrading and Like on Facebook @bazaartrading.in.

This article is for general information purposes only. It is not investment advice or a solution to buy or sell securities. Opinions are the authors; not necessarily that of Bazaartrading.in or any of its affiliates, subsidiaries, officers or directors. Leveraged trading is high risk and not suitable for all. You could lose all of your deposited funds.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *