सेंसेक्स 35,000 के नीचे ठहरा

05-फर-2018 (16:46)
केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के द्वारा केंद्रीय बजट में दीर्घकालिक पूंजीगत लाभ (LTCG)कर लाने की घोषणा के बाद ग्लोबल सेल-ऑफऔर इन्वेस्टर्स के बदले रुझान के चलते स्टॉक मार्केट में शुक्रवार के नुकसान में और विस्तार हुआ. बैरोमीटर इंडेक्स एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स 309.59 अंक या 34,757.16 पर0.88% नीचे गए. निफ्टी-50 इंडेक्समें 94.05 अंक या 10666.55 पर0.87% की गिरावट हुई. इंट्रा-डे ट्रेड में 35,000 के लेवल से फिसलने के बाद सेंसेक्स 35 हजार के लेवल के नीचे स्थिर रहा.

बीएसई सेक्टोरल इंडेक्सेस में गुड्स स्टॉक्स में नुकसान देखा गया. बीएसई सेक्टोरल इंडेक्सेस में कैपिटल गुड्स स्टॉक का नुकसान हुआ.जहां इंडेक्स हेविवेट एचडीएफसी और हिंदुस्तान यूनिलीवर गिर गया, वहीं एक अन्य सूचकांक हेवीवेट आईटीसी ने कमजोर बाजार की प्रवृत्ति को बल दिया. एशियाई मार्केट और यूएस स्टॉक्स में तेजी से गिरावट के चलते प्रमुख सूचकांक ने कमजोर शुरुआत की. दिन के ट्रेड में बाजार कमजोर ही बना रहा.
केंद्रीय बजट 2018 में वित्त मंत्री अरुण जेटली के द्वारा दीर्घावधि पूंजीगत लाभ (एलटीसीजी) कर की घोषणा के बाद सेइन्वेस्टर्स की भावना नकारात्मक है. बजट में एक लाख रुपये से अधिक की इक्विटी पर 10 प्रतिशत LTCG का प्रस्ताव दिया गया है.

सेंसेक्स में 309.59 अंक या 0.88 प्रतिशत की गिरावट आई और यह 34,757.16 पर बंद हुआ, जो 12 जनवरी 2018 के बाद सबसे कम स्तर की क्लोजिंग है. इंडेक्स 192.58 अंक या उच्च स्तर 34,874.17 पर 0.55 प्रतिशतपर बंद हुआ. सूचकांक 545.95 अंक या दिन के लो 34,520.80 पर 1.56% पर रहा.

निफ्टी 50 इंडेक्स 94.05 अंक या 0.87% की गिरावट पर 10,666.55 पररहा. ये इसकी क्लोजिंग का 11 जनवरी के बाद से निचला स्तर है. सूचकांक 57.85 अंक या 0.54% की गिरावट के साथ दिन में 10,702.75 के उच्च स्तर पर बंद हुआ. सूचकांक 173.80 अंक या 1.62% गिरकर 10,586.80 के निचले स्तर पर रहा.

सेकेंडरी इंडेक्सेस में से एसएंडपी बीएसई मिड कैप इंडेक्स में 0.09% की गिरावट रही. एस एंड पी बीएसई स्मॉल कैप इंडेक्स 0.37% गिर गया. इस दौरान बाजार की सेहत कमजोर रही. बीएसई में1,687 शेयर्स में गिरावट,1,083 शेयर्स में बढ़त रही जबकि कुल 206 शेयर्स अपरिवर्तित रहे.

बीएसई पर प्रीवियस ट्रैडिंग सेशन के दौरान रजिस्टर्ड 5944.92 रुपये के कुल टर्नओवर के मुकाबले कुल टर्नओवर 4747.97 करोड़ रुपये रहा.
बीएसई पर सेक्टोरल इंडेक्सेस में एसएंडपी बीएसई कैपिटल गुड्स इंडेक्स (2.65% नीचे), एसएंडपी बीएसई फाइनेंस इंडेक्स (1.53% नीचे), एसएंडपी बीएसई बैंकेक्स (1.11% नीचे) और एसएंडपी बीएसई बेसिक मटेरियल इंडेक्स (नीचे 1.01%) नीचे रहे.

एस एंड पी बीएसई इंडस्ट्रियल इंडेक्स (नीचे 0.59%), एस एंड पी बीएसई मेटल इंडेक्स (डाउन 0.56%), एसएंडपी बीएसई कंज्यूमर डिस्क्रिएशनरी गुड्स एंड सर्विसेस इंडेक्स (0.37% नीचे), एस एंड पी बीएसई रियल्टी इंडेक्स (0.36% डाउन), एसएंडपी बीएसई टेक इंडेक्स (0.09% नीचे), एस एंड पी बीएसई एनर्जी इंडेक्स (0.03% की गिरावट), एस एंड पी बीएसई ऑयल एंड गैस इंडेक्स (0.02% ऊपर), एस एंड पी बीएसई हेल्थकेयर इंडेक्स (0.05% ऊपर), एसएंडपी बीएसई एफएमसीजी इंडेक्स (0.2% ऊपर), एसएंडपी बीएसई यूटिलिटीज इंडेक्स (0.65% ऊपर), एसएंडपी बीएसई पावर इंडेक्स (0.68% ऊपर) एस एंड पी बीएसई ऑटो इंडेक्स (0.73% ऊपर) और एसएंडपी बीएसई टेलीकॉम इंडेक्स (1.68% ऊपर) ने सेंसेक्स में प्रदर्शन किया.
घर की बात करें तो कैपिटल गुड्सस स्टॉक्स में गिरावट रही. प्राज इंडस्ट्रीज (4.14% नीचे), एबीबी इंडिया (2.95% नीचे), सुजलॉन एनर्जी (2.35% नीचे), थर्मैक्स (2.33% नीचे), जीई टी एंड डी इंडिया (2.3% नीचे), हावेल्स इंडिया (1.73% नीचे), बीईएमएल (1.72% नीचे), रिलायंस डिफेंस एंड इंजीनियरिंग (1.56% नीचे), सिमेंस (1.54% नीचे), भारत इलेक्ट्रॉनिक्स (1.35% नीचे), लक्ष्मी मशीन वर्क्स (0.83% नीचे), एसकेएफ इंडिया (0.61% नीचे) और क्रॉम्प्टन ग्रीव्स नीचे 0.58%) नीचे रहे. पुंज लॉयड (ऊपर 0.71%), एआईए इंजीनियरिंग (1.06% ऊपर), भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स (1.50% ऊपर), जीई पावर इंडिया (2.08% ऊपर) और जिंदल सॉ (4.08% ऊपर) ने ऊंचाई को छुआ. इंजीनियरिंग और निर्माण प्रमुख लार्सन एंड टूब्रो (एलएंडटी(L&T)) 3.65% नीचे रहा. हाउसिंग फाइनैंस प्रमुख एचडीएफसी का शेयर 4.06% की गिरावट के साथ 1,825.95 रुपये पर रहा. एफएमसीजी प्रमुख हिंदुस्तान यूनिलीवर 1.05% गिरकर 1,358.35 रुपये पर रहा.

सिगरेट की प्रमुख आईटीसी 1.43% बढ़कर 279.25 रुपये पर रहा. ऑटो प्रमुख टाटा मोटर्स 3.12% की तेजी के साथ 396.05 रुपये पर पहुंचा. सूचकांक हेवीवेट रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) 0.14% गिरकर 904.45 रुपये पर बंद हुआ. अधिकांश बैंक नीचे रहे. निजी क्षेत्र के बैंकों में से कोटक महिंद्रा बैंक (2.66% नीचे), इंडसइंड बैंक (2.36% नीचे), यस बैंक (1.69% नीचे), एचडीएफसी बैंक (1.49% नीचे), आईसीआईसीआई बैंक (0.94% नीचे) और सिटी यूनियन बैंक (0.25%नीचे) नीचे रहे.एक्सिस बैंक (0.20% ऊपर), आरबीएल बैंक (0.39% ऊपर) और फेडरल बैंक (1.40% ऊपर)उच्च रहे.

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में देना बैंक (2.94% नीचे), सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (2.34% नीचे), इलाहाबाद बैंक (1.7% नीचे), कॉरपोरेशन बैंक (1.51% नीचे), यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (0.86% नीचे) सिंडिकेट बैंक (0.82% नीचे), यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (0.64% नीचे), आंध्रा बैंक (0.61% नीचे), पंजाब एंड सिंध बैंक (0.47% नीचे), बैंक ऑफ इंडिया (0.41% नीचे), यूको बैंक (0.34% नीचे) और इंडियन बैंक (नीचे 0.26%) नीचे रहे. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (0.27% ऊपर), बैंक ऑफ महाराष्ट्रा (ऊपर 0.78%), पंजाब नेशनल बैंक (1.08% ऊपर), विजया बैंक (1.08%ऊपर), कैनरा बैंक (2.27% ऊपर), आईडीबीआई बैंक (2.47%ऊपर) और बैंक ऑफ बड़ौदा (2.91%ऊपर) को बढ़त मिली.

बीचसेंसेक्स में लगातार पांचवे ट्रेडिंग सेशन में गिरावट देखी गई.29 जनवरी को 36,283.25 की क्लोजिंग के बाद से सेंसेक्स में 1,526.09 अंक या पांच ट्रेडिंग सेशन में 4.21% की गिरावट है. कैलंडर वर्ष 2018 में अब(5 फरवरी 2018) तक 700.33 अंक या 2.06% की बढ़त हुई है.

For Stock and Commodity Market Updates, Stock tips hindiCommodity tips hindi with BazaarTrading follow us on Twitter @bazaartrading and Like on Facebook @bazaartrading.in.

This article is for general information purposes only. It is not investment advice or a solution to buy or sell securities. Opinions are the authors; not necessarily that of Bazaartrading.in or any of its affiliates, subsidiaries, officers or directors. Leveraged trading is high risk and not suitable for all. You could lose all of your deposited funds.

Be the first to comment on "सेंसेक्स 35,000 के नीचे ठहरा"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*