यूएस-चाईना के बीच छिड़ी टैरिफ की जंग, इंडियन मार्केट धराशायी

यूएस-चाईना के बीच छिड़ी टैरिफ की जंग

04-Apr-2018 (16:20)
चाईना और अमेरिका के बीच जारी ट्रेड वार के चलते बने कमजोर वैश्विक संकेत की वजह से मार्केट तेजी से धराशायी हो गया. बैरोमीटर इंडेक्स S&P BSE सेंसेक्स 351.56 अंक या 1.05% की गिरावट के साथ 33,019.07 पर रहा. निफ्टी-50 इंडेक्स 116.60 अंक या 1.14% गंवा कर 10,128.40 पर रहा. सेंसेक्स इंट्राडे ट्रेड के दौरानमनोवैज्ञानिक लेवल मार्क 33 हजार से नीचे गिर गया.

ओवरसीज़ की यदि बात करें तो यूएस स्टॉक्स में गिरावट हुई, जबकि यूरोप और एशियाई मार्केट्स धराशायी हो गए. दरअसल आज 4 अप्रैल को चाईना की यूएस टैरिफ के जबाव में यूएस गुड्स पर 50 बिलियन डॉलर अतिरिक्त टैरिफ की घोषणा के बाद से मार्केट्स में अनिश्चितता का दौर नजर आया. चाईना सोयाबीन, आटो, केमिकल्स, कुछ विशिष्ट एयरक्राफ्ट और कॉर्न प्रॉडक्स एवं अन्य दूसरे एग्रीकल्चर गुड्स आदि को मिलाकर कुल106 यूएस गुड्सपर 25 फीसदी एडिशनल टैरिफ्स लागू करने की भी तैयारी में है.

आर्थिक जगत की अगर चर्चा करें तो काईज़िन के ताजा सर्वे के मुताबिक मार्च मेंचाईना के सर्विस सेक्टर में लगातार विस्तार हुआ. हालांकि इसका स्लोअर पेस दर्शाया गया. सर्वे के अनुसार फरवरी माह के 54.2 के मुकाबले मार्च में PMI स्कोर 52.3 रहा.

यूएस इंडेक्स फ्यूचर्स की ट्रेडिंग से संकेतों को बल मिला है कि आज ओपनिंग बेल में डाओ 530 पॉइंट्स फिसल सकता है. टेस्ला, अमेजन और अन्य कंपनियों की रीसेंट लॉसेस से वापसी के बाद ट्रेडर्स से मिले बेहतर प्रतिसाद के चलते यूएस स्टॉक्स की कल उच्च पर क्लोज़िंग हुई. बात करते हैं ट्रेड वार की तो अमेरिका में ट्रंप प्रशासन ने कल 3 अप्रैल को चाईना की तकनीक, ट्रांसपोर्ट और मेडिकल प्रॉडक्स से जुड़ीं लगभग 13 सौ इंडस्ट्रियल वस्तुओं पर 25 फीसदी टैरिफ की घोषणा की थी. जिसके जवाब में आज चाईना ने भी यूएस गुड्स पर 50 बिलियन डॉलर अतिरिक्त टैरिफ की घोषणा. दोनों देशों के बीच हो रही इस प्रतिस्पर्धा के कारण एशियाई मार्केट्स समेत भारतीय मार्केट्स पर भारी मार पड़ी और एक-एक कर सारे सेक्टर्स में मंदी छाती गई.

घर की बात करें तो अर्ली ट्रेड में स्टॉक्स में हल्का गेन हुआ. की बेंचमार्क इंडाइसेस ने मॉर्निंग ट्रेडिंग में अप स्टीम को पिक्ड करते हुए फ्रेश इंट्राडे हाई को हिट किया. मिड मॉर्निंग ट्रेड में स्टॉक्स ने वृद्धि की जबकि आफ्टरनून ट्रेड में इंडाइसेस में रिवर्स ट्रेंडिंग दर्ज हुई. मिड-आफ्टरनून ट्रेड के दौरान मंदी दिखी. वहीं लेट ट्रेड में फ्रेश सेल-ऑफ ने की-इक्विटी बैंचमार्क्स को इंट्राडे लो पर खींच लिया.

सेंसेक्स 351.56 अंक या 1.05% गिरकर 33,019.07 पर स्थिर हुआ. 28 मार्च के बाद से यह इसकी लोएस्ट क्लोज़िंग रही. इंडेक्स 134.90 अंक या 0.40% बढ़कर दिन के उच्च 33,505.53 पर रहा. इंडेक्स 398.07 अंक या 1.19% गिरकर दिन के निम्न 32,972.56 पर रहा.
निफ्टी-50 इंडेक्स 116.60 अंक या 1.14% गिरकर 10,128.40 पर रहा. 28 मार्च के बाद से यह इसका लोएस्ट क्लोज़िंग लेवल रहा. इंडेक्स 34.85 अंक या 0.34% की वृद्धि के साथ दिन के उच्च 10,279.85 पर रहा. इंडेक्स 133.70 अंक या 1.31% गिरकर दिन के निम्न 10,111.30 पर रहा.
S&P BSE मिड-कैप इंडेक्स में 0.92% की गिरावट हुई. S&P BSE स्मॉल-कैप इंडेक्समें 1.01% की गिरावट हुई.

मार्केट की नब्ज व्यापक तौर पर निगेटिव रही. BSE पर 1,444 शेयर्स में गिरावट और 1,190 शेयर्स में वृद्धि हुई जबकि कुल 150 शेयर्स अपरिवर्तित रहे. BSE पर सेक्टोरल इंडाइसेस के बीच, S&P BSE मेटल इंडेक्स (down 2.75%), कंज्यूमर ड्यूरेबल्स इंडेक्स (down 2.55%), बेसिक मटेरियल (down 2.07%), कैपिटल गुड्स (down 1.95%), बैंकेक्स (down 1.63%), फाईनेंस (down 1.41%), पॉवर (down 1.3%), रियल्टी (down 1.23%), टेलिकॉम (down 1.23%), ऑईल&गैस (down 1.15%), यूटिलिटीज़ (down 1.12%) टेकइंडेक्स में 1.06% की कमी आई. S&P BSE आईटी इंडेक्स (down 0.96%), एनर्जी (down 0.92%), इंडस्ट्रियल (down 0.86%), कंज्यूमर डिस्क्रिएशनरी गुड्स &सर्विसेस (down 0.65%), FMCG (down 0.15%) और आटो में 0.42% की वृद्धि हुई. S&P BSE हेल्थकेयर में 1.05% की गिरावट हुई.
बैंकों में गिरावट हुई. प्राईवेट सेक्टर्स के बैंकों के बीच एक्सिस बैंक (down 2.61%), कोटक महिंद्रा (down 2.25%), यस बैंक (down 2.24%), HDFC (down 1.63%), ICICI बैंक (down 0.43%) और फेडरल बैंक (down 0.11%) ने निम्न को स्पर्श किया. RBL बैंक (up 0.95%) और सिटी यूनियन बैंक (up 1.01%) ने उच्च को स्पर्श किया.

इंड्सइंड बैंक में 2.26% की गिरावट हुई. स्टेट रन बैंकों के मध्य बैंक ऑफ इंडिया (down 4.04%), बैंक ऑफ बड़ौदा (down 3.65%), सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (down 3.2%), IDBI बैंक (down 3.12%), आंध्रा बैंक (down 2.64%), कैनरा बैंक (down 2.55%), सिंडिकेट (down 2.5%), विजया (down 1.75%), यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (down 1.65%), एसबीआई (down 1.38%), पीएनबी (down 1.36%), इंडियन बैंक (down 1.25%), पंजाब एंड सिंध बैंक (down 1.17%), इलाहाबाद बैंक (down 0.8%), देना बैंक (down 0.77%), बैंक ऑफ महाराष्ट्र (down 0.71%) और कॉर्पोरेशन बैंक (down 0.32%) ने निम्न को स्पर्शकिया. यूको (up 0.45%) और यूनाईटेड बैंक (up 2.03%) में वृद्धि हुई.

ग्लोबल कमोडिटी मार्केट्स में कॉपर की कीमतें गिरने से मेटल और माईनिंग स्टॉक्स में भारी गिरावट हुई. जिंदल स्टील&पॉवर (down 4.42%), स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (down 3.47%), वेदांता (down 3.47%), हिंडाल्को इंडस्ट्रीज़ (down 3.37%), NMDC (down 2.44%), JSW स्टील (down 2.33%), हिंदुस्तान कॉपर(down 2.22%) और हिंदुस्तान जिंक (down 0.89%) ने निम्न को स्पर्श किया जबकि नेशनल एल्युमिनियम कंपनी में 2.86% वृद्धि हुई. टाटा स्टील में 3.29% की गिरावट हुई. ग्लोबल कमोडिटीज़ मार्केट में कॉपर नीचे पहुंच गया. कॉमेक्स पर मई 2018 की डिलेवरी के लिए हाई ग्रेड कॉपर 2.46% की गिरावट के साथ 2.988 डॉलर प्रति पाउंडरहा. ऑटो मेजर टाटा मोटर्स में 3.60% की वृद्धि हुई. आपको बता दें इन्वेस्टर्स को कल भारतीय रिजर्व बैंक की मीटिंग के नतीजों का इंतजार रहेगा.

For Stock and Commodity Market Updates, Stock tips hindiCommodity tips hindi with BazaarTrading follow us on Twitter @bazaartrading and Like on Facebook @bazaartrading.in.

This article is for general information purposes only. It is not investment advice or a solution to buy or sell securities. Opinions are the authors; not necessarily that of Bazaartrading.in or any of its affiliates, subsidiaries, officers or directors. Leveraged trading is high risk and not suitable for all. You could lose all of your deposited funds.

Be the first to comment on "यूएस-चाईना के बीच छिड़ी टैरिफ की जंग, इंडियन मार्केट धराशायी"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*